छात्र कार्यकलाप


         एनआईटी पटना के छात्र अपने शैक्षिक दिनचर्या के अलावा अन्य घटनाओं के एक विस्तृत दायरे को अपने दिनचर्या में शामिल कर रहे हैं।इनमे सांस्कृतिक कार्यक्रमों के माध्यम से अपने दिलकश प्रतिभा का प्रदर्शन, तकनीकी मंच के माध्यम से नए विचारों और उनके आवेदन के लिए अवसर का निर्माण, विभिन्न सेमिनारों का आयोजन करके असल कॉर्पोरेट जगत के लिए खुद को संवारने और कई सामाजिक सेवा कार्यों की सुविधा से जिम्मेदार नागरिक की भूमिका निभाना आदि शामिल हैं। टेक फेस्ट-कोरोना राष्ट्रीय स्तर के तकनीकी विचार गोष्ठी का एक हिस्सा बनके हर साल सम्पादित होने वाला एक सफल प्रसंग के रूप में सामने आया है। मेंलांजे अपनी छिपी प्रतिभा को पुनर्जीवित करने के लिए सही मंच प्रदान करता है और विशेष आनन्द एवं उत्साह के लिए जागरूक करता है। कर्तव्य और संकल्प के माध्यम से एक ही समय में, छात्रों के द्वारा गरीब बच्चों को शिक्षा एवं वृद्धाश्रम में उपेक्षित बुजुर्गों के लिए एक देखभाल जैसी सराहनीय सेवा प्रदान की गई है ।प्रसिद्ध संस्थानों से उच्च शिक्षा और कॉर्पोरेट जगत के दृष्टिकोण को बदलने पर सेमिनार एक नियमित विशेषता है। इसके अलावा छात्रों को तकनीकी और गैर तकनीकी जरूरतों को पूरा करने के लिए समाजों और समूहों का गठन किया है।इन छात्र समूहों को कॉलेज प्रशासन से उचित मान्यता और समर्थन प्राप्त है। इनमें से कुछ अभ्युदय, ई एक्स ई ,पठन क्लब शामिल है ।इन समूहों का उद्देश्य छात्रो को बाहर की दुनिया से बढ़ती तकनीकी प्रतिस्पर्धा का सामना करने के लिए तैयार करना है ताकि छात्र के व्यक्तित्व का विकास हो सके । इससे छात्रों के प्रबंधकीय कौशल में वृद्धि होती है जो दौरा करने वाली कंपनियों के मानव संसाधन टीम की सख्त जरूरत हैं।

         घटनाओं के विशद श्रेणी में इन सभी गतिविधियों के माध्यम से संस्थान के छात्र खुद को संज्ञान, भावना का एक मिलन स्थल प्रदान करते है और जो न सिर्फ उनके समग्र सौंदर्य, उल्लास बल्कि जिम्मेदारी की भावना को भी बढ़ाता है।